इस तरह होता था कोख का सौदा, सामने आया कई राज

एक नज़र इधर जरूर पढ़ें प्रमुख समाचार

लखनऊ। यूपी पुलिस ने एक ऐसे गैंग का पर्दाफाश किया है जो किराए की कोख के जरिये बच्चा पैदा कराने के बाद नवजात को विदेशों में बेचता था। हरियाणा के फरीदाबाद में जन्में तीन बच्चों को नेपाल में बेचा जाना था। महिलाएं बच्चों को लेकर नेपाल जा रही थी लेकिन आगरा पुलिस ने दो महिलाओं सहित पांच लोगों को गिरफ्तार कर इस गैंग का पर्दाफाश कर दिया। दरअसल किराए की कोख के लिए बाकायदा देश में कानून है। बिना एग्रीमेंट के कोई भी ऐसा नहीं कर सकता। विदेशी दंपति के लिए किराए की कोख देना गैर कानूनी है। ख़बरों के मुताबिक आगरा पुलिस ने लखनऊ एक्सप्रेस वे के फतेहाबाद टोल के पास से दो महिलाओं सहित पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। पूछताछ में पता चला है कि नेपाल के दंपति ने बच्चों को जन्म देने के लिए गैंग से संपर्क किया था। इसके एवज में मोटी रकम दी थी। जन्म् के बाद बच्चों को उनके खरीदार माता-पिता को सुपुर्द करना था। ये लोग दो गाड़ियों से गोरखपुर होते हुए नेपाल जा रहे थे।

आगरा पुलिस के मुताबिक यह गैंग पिछले एक साल से इस धंधे में लिप्त है। गैंग के सदस्य किराए की कोख के लिए जिनसे रुपये लेते हैं, डिलीवरी भी उसके बताए ठिकाने पर कराते हैं। इन महिलाओं की डिलीवरी नेपाल में होनी थी। कोरोना वायरस के कारण लॉकडाउन के चलते महिलायें नेपाल नहीं गईं मजबूरन उनकी डिलीवरी फरीदाबाद में करानी पड़ी। पुलिस की पूछताछ में पता चला है कि बिहार की एक महिला ने किराए की कोख के लिए साढ़े तीन लाख रुपये लिए थे। रुपये मिलने पर बच्चा उसने गैंग को सुपुर्द कर दिया। वहीं पकड़ी गई एक महिला एक बच्चे की सगी मां है। उसे कितने रुपये मिले हैं अभी यह साफ नहीं हो पाया है। फिलहाल आगरा पुलिस इस मामले की गंभीरता से जांच कर रही है। पुलिस को शक है कि इस गैंग में डॉक्टर भी शामिल हो सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *