फिरदौस आलम ने पूर्णिमा को पहले प्यार के जाल में फंसाया और फिर इस जघन्य कांड को दिया अंजाम

Share It

नई दिल्ली। फिरदौस आलम नाम के लड़के ने एक ऐसे जघन्य कांड को अंजाम दिया है जिसको जानकर हर कोई हैरान है। दरअसल यह पूरा मामला छत्तीसगढ़ राज्य के रामानुजगंज का है। बताया जा रहा है कि यहां के रहने वाले फिरदौस आलम ने पहले अपने प्यार के जाल में एमएससी की छात्रा पूर्णिमा गुप्ता को फंसाकर उसकी अंतरंग तस्वीरें हासिल की। पूर्णिमा की अंतरंग तस्वीरें हासिल करने के बाद आलम लगातार उसको ब्लैकमेल करता रहा और एक खौफनाक साजिश के तहत उन तस्वीरों को वायरल कर दिया। आपत्तिजनक तस्वीरें वायरल होने के बाद लोकलाज के भय से मजबूर होकर 23 वर्षीय छात्रा पूर्णिमा गुप्ता ने मौत को गले लगा लिया।

जो करना है करो लेकिन मुझे बदनाम मत करो..

जांच के दौरान पुलिस को पता चला है कि वॉट्सऐप पर चैटिंग के दौरान पूर्णिमा बार-बार फिरदौस से तस्वीरें वायरल नहीं करने को लेकर कहती रही। पूर्णिमा ने यह तक कहा, जो करना है करो लेकिन मुझे बदनाम मत करो। फिर उसने घरवालों की दुहाई दी कि मेरी फैमिली जीते जी मर जाएगी। लेकिन फिरदौस आलम जिद पर अड़ा हुआ था। पूर्णिमा के बार-बार आग्रह पर भी जब फिरदौस नहीं माना, तो अंतत: पूर्णिमा ने घर में ही फांसी पर झूलकर आत्महत्या कर ली।