हमारा मकसद हंगामा खड़ा करना नहीं है और ना ही हम किसी के दबाव में झुकेगें..

Share It

बी.के. सिंह। जनवरी 2011 में बहुत ही सीमित संसाधनों और छोटी सी टीम के सहारे “ख़बर अब तक” का सफर शुरू हुआ था। करीब अपने अब तक के 8 साल के सफर के दौरान हमारी टीम ने कई बड़े-बड़े खुलासे किए लेकिन कभी भी हमारा मकसद हंगामा खड़ा करना नहीं रहा। और ना ही अब तक हम लोग किसी के दबाव में झुके हैं। कई ऐसे मौके आये जब हमें तमाम तरीके से दबाव बनाकर रोकने का प्रयास किया गया। लेकिन बिना डरे बिना झुके हमारा सफर निरंतर चलता रहा। हम एक बार फिर यह स्पष्ट कर देना चाहते हैं कि आगे भी लगातार बिना डरे बिना झुके जनता की अदालत में वह सच दिखाते रहेगें जिसे जानने और देखने का हक जनता को है। वर्तमान समय में “Operation Black&White” के जरिये काले धन के खिलाफ “ख़बर अब तक” की बड़ी मुहिम जारी है। हम यहां आपको बताना चाहते हैं कि “Operation Black&White” को पूरा करने में हमारी टीम को करीब 14 महीने लगें हैं। सबसे पहले अगस्त 2018 में हमें पता चला कि स्टार फ्यूचर इन्फ्रासिटी एंड मार्केटिंग प्राइवेट लिमिटेड नाम की कंपनी नोटबंदी के बाद बड़े पैमाने पर काले धन को सफेद करने की मुहिम में लगी हुई है। “ख़बर अब तक” की टीम ने जब इस कंपनी को लेकर तहकीकात शुरू की तो कई और चौंकाने वाले मामले सामने आए। जैसे-जैसे हमारी तहकीकात आगे बढ़ी कई और कंपनियों का सच सामने आता गया और फिर हमने यह तय किया कि हर हाल में उन कंपनियों को बेनकाब किया जायेगा जो देश का भविष्य बर्बाद करने की मुहिम में लगी हुई हैं।

“ख़बर अब तक” ने अभी तक 4 कंपनियों का स्टिंग ऑपरेशन जारी किया है। इसके बाद लगातार तमाम तरीके से हमारी टीम को गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी जा रही है। हमको यह एहसास कराया जा रहा है कि रियल एस्टेट के धंधे में जो लोग अपना ब्लैक मनी खपा रहे हैं वे या तो बड़े अधिकारी हैं या बड़े नेता हैं या फिर वे समाज के रसूखदार लोग हैं जिनके पास पैसा है पावर है और इसके दम पर वे जब चाहें जिसको चाहें ठिकाने लगा सकते हैं। फिलहाल उनका यह संदेश हम तक पहुंच चुका है। एक बार फिर हम यहां यह साफ कर देना चाहते हैं कि बिना डरे बिना झुके उन सभी कंपनियों को बेनकाब किया जायेगा जो इस खेल में शामिल हैं। इसके साथ-साथ उन लोगों के नाम भी सार्वजनिक किये जायेगें जो इस काले धंधे को अपना संरक्षण दे रहे हैं। हमारा यह मानना है कि देश की जनता को यह जानने का अधिकार है कि कोई अधिकारी कोई नेता कोई डॉक्टर या फिर कोई इंजीनियर कैसे आम जनता का खून चूसकर काला धन कमाता है और कैसे ठिकाने लगाता है।

“ख़बर अब तक” की टीम ने स्टार फ्यूचर ग्रुप, सनलाइन ग्रीन, मंगरीश इंफ्राटेक, वीएस बंधन, श्रीराम इंफ्रासिटी, बीसीडी ग्रुप, भूमिशक्ति ग्रुप, गोरखपुर कॉलोनाइजर एंड डेवलपर्स, न्यू नाइस बिल्डर्स एंड एस्टेट डेवलपर्स, मां अंबे शक्ति इंफ्रा डेवलपर्स, गोल्डेन ग्रीन इंफ्रा डेवलपर्स, इंपायर बिल्डर्स, मणीशांति इन्फ्रासिटी, शुभ संपर्क प्रापर्टी, भब्या कॉलोनाइजर्स, वीएन बालाजी तथा इनसे जुड़ी कई और कंपनियों को लेकर गहन पड़ताल की। इस दौरान हमें पता चला है कि इनमें से कई कंपनियों ने नोटबंदी के दौरान तमाम तरीके से बड़े पैमाने पर काले धन को ठिकाने लगाया है। कई ऐसी कंपनियां हैं जो इस समय भी काले धन को ठिकाने लगाने की मुहिम में लगी हुई हैं। इन कंपनियों द्वारा न सिर्फ स्टाम्प एवं रजिस्ट्रेशन विभाग को चुना लगाया जा रहा है बल्कि बड़े पैमाने पर इनकम टैक्स और जीएसटी भी चुराया जा रहा है। इसके अलावा कई कंपनियों की ओर से रेरा को लेकर जो जानकारी दी जा रही है वह भी फर्जी है। “ख़बर अब तक” के पड़ताल में यह बात सामने आया है कि इनमें से अधिकतर कंपनियां बिना किसी डर भय के खुलेआम देश के तमाम कानूनों का उल्लंघन कर रही हैं। इन कंपनियों में कई रसूखदार लोगों का पैसा लगा है जिसको लेकर पड़ताल जारी है। जो भी सच होगा सब कुछ बहुत जल्द जनता की अदालत में होगा।

“Operation Black&White” को लेकर अगर किसी को कोई सुझाव देना है अथवा कोई शिकायत है तो आप अपनी बात हमें ई मेल के जरिये bksinghup@gmail.com पर भेज सकते हैं।

|| Khabar Ab Tak || Operation Black&White || Part-1 ||

14 महीनों की गहन पड़ताल के बाद काले धन पर देखिये सबसे बड़ा खुलासा..

Posted by Khabar Ab Tak on Tuesday, November 19, 2019
|| Khabar Ab Tak|| Operation Black&White || Part – 2 ||

14 महीनों की गहन पड़ताल के बाद काले धन पर देखिये सबसे बड़ा खुलासा

Posted by Khabar Ab Tak on Wednesday, November 20, 2019
|| Khabar Ab Tak || Operation Black&White || Part – 3

14 महीनों की गहन पड़ताल के बाद काले धन पर देखिये सबसे बड़ा खुलासा

Posted by Khabar Ab Tak on Thursday, November 21, 2019
|| Khabar Ab Tak || Operation Black&White || Part – 4

नोटबंदी के बाद काले धन पर "ख़बर अब तक" की सबसे बड़ी तहकीकात

Posted by Khabar Ab Tak on Saturday, November 23, 2019