Monday 23rd September 2019

सीबीआई के रडार पर अखिलेश यादव, हो सकती है पूछताछ

Share It

लखनऊ। अवैध रेत खनन मामले में पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की मुश्किलें बढ़ती हुई दिख रही है। बताया जा रहा है कि यूपी की चर्चित आईएएस अधिकारी बी. चन्द्रकला के आवास पर सीबीआई छापों के बाद अब समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव सीबीआई के रडार पर हैं और उनसे इस मामले में कभी भी पूछताछ हो सकती है। सीबीआई सूत्रों के मुताबिक 2011 के बाद से यूपी के सभी खनन मंत्रियों से पूछताछ हो सकती है। बता दें कि 2012-13 में खनन मंत्रालय तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के पास था।

दरअसल इलाहाबाद हाईकोर्ट के आदेश पर 2016 से खनन घोटाले की जांच चल रही है। इस मामले में आरोप है कि रोक के बावजूद अधिकारियों और मंत्रियों की मिलीभगत से रेत खनन के ठेके दिए गए।

चर्चित IAS अधिकारी हैं चन्द्रकला
बी. चंद्रकला बेहद तेज तर्रार छवि की IAS अधिकारी मानी जाती हैं। वह सोशल मीडिया पर भी काफी सक्रिय रहती हैं। चंद्रकला हमीरपुर और बुलंदशहर की डीएम रह चुकी हैं और उन पर डीएम रहते हुए अवैध खनन कराने का आरोप है। चंद्रकला पर आरोप लगा था कि उन्होंने जुलाई 2012 के बाद हमीरपुर जिले में 50 मौरंग खनन के पट्टे कर दिए थे। हालांकि, उस दौरान ई-टेंडर के जरिए मौरंग के पट्टों को स्वीकृत करने का प्रावधान था। इसके बावजूद नियमों की अनदेखी करते हुए ऐसा किया गया था।